PUBG समेत 118 ऐप्स बैन होने पर बौखलाया चीन, भारत से अपनी गलती सुधारने को कहा

सीमा पर चीनी सेना के साथ जारी तनातनी के बीच भारत ने चीन पर एक और ‘डिजिटल स्ट्राइक’ की है. भारत सरकार ने बुधवार को 118 और चीनी मोबाइल ऐप्स पर बैन लगा दिया है. इनमें PUBG के अलावा Baidu, APUS लॉन्चर प्रो जैसे ऐप शामिल हैं. भारत की ओर से उठाए गए इस कदम के बाद चीन बौखला गया है. चीन के वाणिज्य मंत्रालय  ने भारत सरकार के इस कदम पर कड़ा विरोध जताया है और भारत से अपनी गलती सुधारने को कहा है.

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा वह चीनी मोबाइल ऐप बंद करने के भारत के कदम का कड़ा विरोध करता है. भारत के इस कदम से चीनी निवेशकों और सेवा प्रदाताओं के कानूनी हितों का उल्लंघन हुआ है. चीन के वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने कहा कि चीन भारत से अपनी भूल सुधारने के लिए कहता है.

बता दें कि भारत ने डेटा सुरक्षा जोखिम का हवाला देते हुए बुधवार को पापुलर वीडियो गेम PUBG समेत 118 मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था. PUBG में चीन की कंपनी टेनसेंट होल्डिंस लिमिटेड की हिस्सेदारी है. जिन ऐप्स को बैन किया गया है उनमें PUBG के अलावा, Baidu, कैमकार्ड बिजनेस, वीचैट रीडिंग, वूव मीटिंग- टेनसेंट वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, स्मार्ट ऐप लॉक, ऐपलॉक जैसे एप शामिल हैं.

सरकार ने हाल ही में चीनी ऐप पर बड़ी कार्रवाई करते हुए पहले 59 ऐप को बैन किया था, जिसमें लोकप्रिय ऐप  TikTok भी शामिल था. बाद में सरकार ने 47 और ऐप को बैन किया था. बुधवार को एक बार फिर से सरकार की तरफ से PUBG समेत 118 ऐप को बैन किया गया है.

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x